Mool Niwas Form Pdf Download | Rajasthan Domicile Certificate Application Form

Mool Niwas Form Pdf Download | Rajasthan Domicile Certificate Application Form

नमस्कार दोस्तों आज इस पोस्ट में राजस्थान मूल निवास फॉर्म के बारे जानकारी देने वाले है राजस्थान मूल निवास क्या है, Rjathan mool niwas form राजस्थान मूल निवास क्यों जरुरी हैराजस्थान मूल निवास के लाभ, मूल निवास क्यों बनवाना चाहिए आदि जानकरी इस पोस्ट में देने वाले तो प्लीज इस पोस्ट को पूरा पढ़ना और जानकारी आपको कैसी लगीकमेंट कर अपनी राय हमें जरूर दे ताकि भिवष्य में आप आपके लिए और जानकारी ले सके

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र: Rajasthan Mool Niwas Form(Domicile Certificate), पंजीकरण तथा आवेदन प्रक्रिया

सबसे पहले sso.rajasthan.gov.in पोर्टल पर लॉग इन करें

इसके बाद emitra आइकन पर क्लिक करें

इसके बाद सर्विसेस ऑप्शन मे जाकर लाभ सेवा अनुप्रयोग पर क्लिक करें

इसके बाद सर्च बॉक्स में Bonafide लिख कर सर्विस पर क्लिक करें

इसके बाद आवेदक का भामाशाह ID, आधार ID या ई-मित्र पंजीकरण संख्या तीनों में से एक ID या पंजीकरण संख्या डालकर विस्तार या डेटा लाये बटन पर क्लिक करें। जिससे प्रोफ़ाइल पेज खुल जायेगा जिसमें अपनी जानकारी हिन्दी और अंग्रेजी में दर्ज कर “सेव” बटन पर क्लिक करें तथा “अगला” बटन पर क्लिक करें।

जिसके पश्चात निम्न दिखाये गए अनुसार मूल निवास के लिए आवेदन पत्र दिखाई देगा जिसमे आवेदक से संबन्धित सम्पूर्ण जानकारी का विवरण तथा संबन्धित दस्तावेज़ संलग्न करें।

दस्तावेज़ :–

एप्लिकेशन form – जो कि दो रजिस्टर्ड अधिकारी के हस्ताक्षर सहित हो।

अन्य दस्तावेज़ – आधार कार्ड, पिता/पति का पहचान पत्र, राशन कार्ड, बिजली बिल, जन आधार कार्ड, 10 वर्ष पुराना इनमें से कोई एक दस्तावेज़ – (पिता/पति का पहचान पत्र, राशन कार्ड, बिजली बिल)

आवेदन पत्र भर जाने के बाद पूरी तरह से जांच लेवे तथा सेव बटन पर क्लिक करे तथा सेव बटन पर क्लिक करने के बाद निम्न स्क्रीन पर दिखाये गए अनुसार मेसेज दिखाई देगा।

“Payment के लिए बटन पर क्लिक करें

“भुगतान के लिए बिल जोड़े” बटन पर क्लिक करें। अन्यथा बिल ना जुड़ पाने की स्थिति में Payment सफलतापूर्वक नहीं हो पायेगा।

“Payment” बटन पर क्लिक करें।

“भुगतान” बटन पर क्लिक करने के बाद यदि पूर्ण रूप से आवेदन करना चाहते हैं तो “जारी रखें” बटन पर क्लिक करें अथवा आवेदन पत्र में दस्तावेज़ संलग्न किए बिना आवेदक को रसीद जारी करना चाहते हैं तो “आंशिक रूप से जमा करें” पर क्लिक करें।

यदि आवेदन आंशिक रूप से जमा किया है तो यह कियोस्क स्तर पर ही लंबित है अत: इसे पूर्णतया सबमिट करने के लिए “Continue Partial Application (आंशिक आवेदन पूरा करें)” ऑप्शन में जाकर इसमें दस्तावेज़ संलग्न कर सबमिट करें तभी यह तहसील स्तर पर दिखाई देगा।

इसके बाद भुगतान प्रक्रिया पूर्ण कर आवेदक को रसीद जारी करें।

आवेदन के पश्चात टोकन का स्टेटस जानने के लिए Service Workflow ऑप्शन में जाकर देख सकते हैं।

Approve होने के बाद मूल निवास को प्रिंट करने के लिए Avail Service ऑप्शन का चयन कर सर्च बॉक्स में  “Print Digital Certificate” सेवा का चयन कर Approve किए गए मूल निवास का Transaction Number se प्रिंट के प्रकार का चयन कर भुगतान की प्रक्रिया पूर्ण कर प्रिंट निकालें।

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र Mool Niwas Form ऑनलाइन आवेदन फॉर्म PDF डाउनलोड

राजस्थान मूल निवास फॉर्म डाउनलोड करने के लिए आप गूगल में जाकर ेमित्र की साइट से भी से डाउनलोड कर सकते है या फिर हमारी साइटके आल फॉर्म मेनू में जेकरि भी डाउनलोड कर सकते है

मूल निवास प्रमाण पत्र Mool niwas form राजस्थान के लिए आवश्यक दस्तावेज

राजस्थान मूल निवास के दस्तावेज

  • मूल निवास फॉर्म
  • रातों कार्ड
  • आधार कार्ड
  • जन आधार कार्ड
  • बिजली का बिल
  • स्कूल के दस्तावेज
  • परिवार में बना मूल निवास प्रमाण पत्र
  • या फिर 10 साल पुराने दस्तावेज

मूल निवास कैसे चेक करते हैं?How to check domicile?

rajasthan mool niwas form status चेक करने के लिए आपको सबसे पहले गूगल में एमिरा सर्च करना होगा! ई मित्र की साइट में जाना होगा ONLINE VERIFICATION SECTION(TRACK TRANSACTION)के बटन पर क्लिक करना होगा

mool niwas formमूल निवास प्रमाण पत्र राजस्थान status

इसके बाद आपको मूल निवास फॉर्म का टोकन नो, या रसीद न. डालने है और सर्च करना है आपको आपके मूल निवास का स्टेटस पता चल जायेगा

mool niwas form मूल निवास प्रमाण पत्र राजस्थान status

राजस्थान मूल निवास सर्टिफिकेट की वैधता क्या है?

मूल निवास की वैधता हर स्टेट के हिसाब से होती है जैसे राजस्थान में मूल निवास की वैधता 10 साल तक होती है इसके बाद आपको नया बनवाना पड़ता है

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र के क्या क्या फायदे है?

मूल निवास हर स्टेट की नागरिता का प्रमाण है, इस ये मालूम होता है की आप भारत में किस स्टेट के नागरिक हो और मूल निवास बनवाने से आपको सरकारी लाभऔर सरकारी नौकरी में काम आता है इस किसकी स्टेट का हो मूल निवास बनवाना चाहिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here